बैबी हैप्पी मॉडर्न पी.जी. कॉलेज मे रक्तदान शिविर

बैबी हैप्पी मॉडर्न पी.जी. कॉलेज मे रक्तदान शिविर

हनुमानगढ। जंक्शन स्थित बैबी हैप्पी मॉर्डन पी.जी. कॉलेज मे एच.डी.एफ.सी बैक और बैबी हैप्पी मॉडर्न पी.जी. कॉलेज के संयुक्त तत्वावधान मे रक्तदान शिविर लगाया गया। इसमें 51 युनिट से अधिक रक्तदान हुआ। कॉलेज के डायरेक्टर तरूण विजय,चैयरमैन आशिष विजय और एच.डी.एफ.सी बैक के कलस्टर हैड आशिष बोहरा ने संयुक्त रूप से शिविर का उद्घाटन किया। रक्तदान को लेकर सब में काफी उत्साह देखा गया। कॉलेज के डारेक्टर तरूण विजय ने रक्तदान के महत्व पर प्रकाश डालते हुये कहा की धार्मिक मान्याताओं के अनुसार कितने भी दान के तरीकें बताए गये रक्तदान सर्वोपरि है। इसमें हम व्यक्ति को जान बचा सकतें है। उन्होने कहा कि रक्तदान को लेकर अन्य भी भ्रातियां फैली हुई है। उन्हे जन जाग्रती अभियान के द्वारा दुर कर सकतें है। डायरेक्टर तरूण विजय ने युवाओ से कहा कि वे समय समय पर रक्तदान कर इंसानियत का परिचय दे। कॉलेज के चैयरमैन आशिष विजय ने कहा कि खुन को बनाना संभव नही । इसके लिए किसी फेक्ट्री की जरूरत नही है। यह तो मानव शरीर से ही संभव है। कब किसको खुन की जरूरत पड जाये कहा नही जा सकता। इसी सोच के आधार पर हमें रक्तदान अभियान को बढावा देना चाहिये।उन्होने कॉलेज मे इस तरह के आयोजनो को जारी रखने की बात कही। बैक के अमित बोहरा,कलस्टर हैड, एच.डी.एफ.सी बैक ने कहा कि बैक भी समाजिक सेवाकारो से जुडकर इस तरह के आयोजनो के प्रति गंभीर है। उन्होने बैबी हैप्पी कॉलेज प्रबंधन के सहयोग की सराहना करते हुये आगे भी मिलकर आयोजन करने की बात कही। कॉलेज के प्रशासन परमानंद सैनी और कॉलेज के प्राचार्य डॉ विशाल पारीक ने कहा कि कॉलेज के विधार्थी पढाई के साथ खेलकुद साहित्य कला एवं सगीत व सामाजिक गतिविधियों मे सक्रिय भूमिका निभाते है। रक्तदान शिविर को लेकर उनकी पहल सराहनीय है । उन्होने कहा कि रक्तदान के लिये व्यक्ति की उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए। इससे कम आयु के लोग रक्तदान नही कर सकतें। रक्तदान शिविर में एच.डी.एफ.सी बैक की टीम ने सेवाएं दी। इसमे बैक के आशिष कुमार,रूप राठोड. कॉलेज के राजकुमार महला, कपील सैन, डॉ कालूराम,सुरेन्द्र शर्मा आदि का भी सहयोग रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *