थाने में लाकर बेरहमी से पीटने का आरोप परिजनों व कांग्रेस कार्यकत्र्ताओं ने धरना दिया

थाने में लाकर बेरहमी से पीटने का आरोप परिजनों व कांग्रेस कार्यकत्र्ताओं ने धरना दिया

हनुमानगढ़। युवक को थाने में लाकर बेरहमी से पीटने का आरोप लगाते हुऐ उसके परिजनों व कांग्रेस कार्यकत्र्ताओं ने सोमवार को जंक्शन पुलिस थाने के सामने धरना शुरू कर दिया। धरने पर बैठे गांव रोड़ावाली के पूर्व सरपंच नूरनबी भाटी ने बताया कि उसका भतीजा मोहम्मद रफी जो कि गणेशगढिय़ा पेन्ट्रोल पम्प सुरतगढ़ रोड़ के सामने संतवीर कालोनी में खान ईलेक्ट्रोनिक के नाम से दुकान चलाता है। उसके भतीजे के खिलाफ किसी ने जंक्शन थाने में परिवाद दिया कि वह सामने लघुशंका करता है । परिवाद की जांच करने के लिये सोमवार को जंक्शन थाने से दो पुलिस जवान सुखविन्द्र सिंह, बलदेव सिंह जो प्राईवेट गाड़ी स्वीफट रजि0न0 आरजें 31 सीए 9005 में सवार होकर दुकान पर पहुचे। पूर्व सरपंच ने आरोप लगाया कि दुकान पर पहुचते ही दोनों पुलिस कर्मिरूों ने उसके भतीजे से मारपीट की इसके बाद पुलिस कर्मी उसके भतीजें को गाड़ी में डालकर थाने में आए यहां भी चार पांच पुलिस कर्मियों ने उसकी छोटी सी गलती के लिए बुरी तरह से मारा। मोहम्मद रफी के खिलाफ परिवाद दर्ज करवाने वाले व्यक्ति ने स्वंय पुलिस प्रशासन एवं शहर के जागरुक नागरिको के बीच माना है कि मैने केवल मोहम्मद रफ ी को पाबंद करने के लिये कहा था। परन्तु पुलिस ने अपनी मनमानी की। इस मामले को लेकर जागरूक नागरिकों ने जंक्शन पुलिस थाने के समक्ष प्रदर्शन किया। उन्होने बताया कि अगर कोई परिवाद किसी भी व्यक्ति पर किया जाता है तो बिना उसकी जांच किये क्या उस व्यक्ति के साथ पुलिस को मारपीट करने का हक है। धरने पर बैठे प्रदर्शनकारियों से डीएसपी वीरेन्द्र जाखड़ ने आकर वार्ता की और प्रदर्शकारियों को दो दिन के भीतर इस मामले की निष्पक्ष जांच करने का आश्वासन दिया। प्रदर्शनकारियों ने मांग की है कि उक्त पुलिस स्टाफ सुखविन्द्र सिंह व बलदेेव सिंह के खिलाफ तुरंत प्रभाव से सख्त कार्यवाही की जावे। उन्होने चेतावनी दी है कि अगर दो दिन में कोई कार्यवाही नही होती है तो आन्दोलन उग्र किया जायेगा। इस मौके पर नूरनबी पूर्व सरपंच, इशाक खान, मोहम्मद अली, वली मोहम्मद, सौरभ राठौड़, शकील अहमद, गुरदीप चहल, गणेश बंसल, निरंजन नायक, रेशम सिंह माणुका, मनोज बड़सीवाल, अशोक यादव, हाकम सिंह, विकास शर्मा व अन्य नागरीक मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *