Post Office Deposit Scheme



इन दिनों महंगाई बढ़ती जा रही है। ऐसे में सैलरीड और मीडियम क्लास के लिए बड़े निवेश कभी आसान नहीं होते हैं। इन हालात में छोटी रकम के साथ निवेश करना एक अच्छा ऑप्शन हो सकते हैं। पोस्ट ऑफिस की रिकरिंग डिपॉजिट यानी आरडी स्कीम एक बेहतर ऑप्शन हो सकती है। इसे आवर्ती जमा के नाम से भी जाना जाता है। आरडी स्कीम (RD Scheme) की खास बात यह है कि इसमें आपको हर महीने निवेश करते हैं। इसे पोस्ट ऑफिस आरडी अकाउंट (Post Office Recurring Deposit Account) भी कहा जाता है। इसके जरिये आप हर महीने 10,000 रुपये यानी रोज 333 रुपये के निवेश के साथ 10 साल मे एक बड़ा फंड तैयार कर सकते हैं।

पोस्ट ऑफिस की आरडी में 10 साल से ज्यादा उम्र का कोई भी बच्चा या वयस्क खाता खुलवा सकता है। इस अकाउंट में सिर्फ 100 रुपये के छोटे से अमाउंट से निवेश शुरू कर सकते हैं। यह योजना सरकार की गारंटी योजना के साथ आती है। अधिकतम निवेश की कोई लिमिट नहीं है आप इसमें आप 10 रुपये के मल्टीपल में कितना भी पैसा डाल सकते हैं। फिलहाल आरडी स्कीम पर सालाना 5.8 फीसदी ब्याज मिल रहा है, यह दर जुलाई, 2022 से लागू है। केंद्र सरकार अपनी सभी छोटी बचत योजनाओं की ब्याज दरें हर तिमाही में तय करती है।

अगर आप हर महीने पोस्ट ऑफिस की RD स्कीम में 10 हजार रुपए हर महीने 10 साल तक निवेश करते हैं, तो आपको 10 साल बाद 5.8 फीसदी की ब्याज दर पर 16 लाख रुपये से भी ज्यादा मिलेंगे।

10 साल में आपका कुल जमा 12 लाख रुपये होगा और अनुमानित रूप से आपको 4.26 लाख रुपये रिटर्न मिलेगा। इस प्रकार मैच्योरिटी पर आपको कुल 16.26 लाख रुपये मिलेंगे।

इसमें जमा पैसों पर ब्याज तिमाही लगाया जाता है। हर तिमाही के आखिर में आपके अकाउंट में जोड़ (कंपाउंड इंटरेस्ट के साथ) दिया जाता है।

पांच साल में मैच्योर होती है आरडी : 

पोस्ट ऑफिस का आरडी अकाउंट खुलने के पांच साल के बाद या 60 साल में मैच्योर होता है। इस आरडी को आप 10 साल तक आगे बढ़ा सकते हैं। हालांकि, एक जमाकर्ता तीन साल के बाद आरडी अकाउंट को बंद करवा सकता है या अकाउंट खुलवाने के एक साल बाद 50 फीसदी तक लोन ले सकता है। यदि खाता पूरी तरह बंद हो जाता है, चाहे ऐसा मैच्योरिटी से एक दिन पहले ही हो जाए तो इस पर पोस्ट ऑफिस के सेविंग अकाउंट की तरह ब्याज दर मिलेंगी।

पोस्ट ऑफिस का आरडी अकाउंट बिना पैसा जमा किए भी 5 साल तक बना रह सकता है।




Comments

Popular posts from this blog

'वैवाहिक बलात्कार'(Marital Rape) - सच या सिर्फ सोच? : दीपाली

वीरांगना नांगेली

वीर योद्धा राणा सांगा की शौर्य गाथा (A Story of Great Worrier Rana sanga)

भारतीय साहित्य में विभाजन का दर्द

संयुक्त राष्ट्र की भाषाओं में हिंदी शामिल

महिला सशक्तिकरण या समाज का सच : दीपाली

Blood & Faith - Matthew Carr

फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ की मशहूर शायरी

विश्व आदिवासी दिवस, 2022

सत्य वचन (उत्तराखंड की लोक कथा) : भूपेंद्र रावत