अडानी ग्रुप ने हेल्थकेयर क्षेत्र में रखा कदम

अडानी ग्रुप ने हेल्थकेयर सेक्टर में कदम रखा है। उसने 18 मई (बुधवार) को इसका ऐलान किया और बताया कि हेल्थकेयर से जुड़ी सेवाएं देने के लिए उसने अलग कंपनी बनाई है। इसका नाम अडानी हेल्थ वेंचर्स लिमिटेड (AHVL) है। सब्सिडियरी AHVL हेल्थकेयर से संबंधित बिजनेस करेगी। इसमें मेडिकल और डायगोनिस्टिक फैसिलिटीज की शुरुआत भी शामिल होगी। इसमें कहा गया है कि अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड ने पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडियरी (WOS) बनाई है। इसका नाम अडानी हेल्थ वेंचर्स है, जिसे 17 मई को बनाया गया।

RBI की MPC में कैसे हुआ 0.40% रेपो रेट बढ़ाने का फैसला, कमेटी मेंबर जेआर वर्मा ने खोला राज समूह ने कहा है कि नई कंपनी का अथॉराइज्ड और पेडअप कैपिटल 1,00,000-1,00,000 रुपये होगा। यह मेडिकल और मेडिकल टेस्ट से संबंधित सेवाएं देने के साथ ही हेल्थ एड्स और हेल्थ टेक आधारित सुविधाएं देगी। इसके रिसर्च सेंटर भी होंगे। यह मेडिकल से जुड़ी अन्य तरह की सेवाएं भी देगी।

अडानी ग्रुप ने कहा है कि AHVL आने वाले समय में अपना बिजनेस ऑपरेशन शुरू करेगी। इस ऐलान के ठीक एक दिन पहले इस समूह ने अंबुजा सीमेट्स और एसीसी के अधिग्रहण की घोषणा की थी। उसने स्विट्जरलैंड की होलसिम से इन दोनों कंपनियों में बड़ी हिस्सेदारी खरीदी है। इससे वह देश की दूसरे सबसे बड़ी सीमेंट प्रोड्यूसर बन जाएगा।

अडानी ग्रुप 2014 के बाद अलग-अलग बिजनेस में 30 से ज्यादा अधिग्रहण कर चुका है। इस ग्रुप की ग्रोथ बहुत तेज रही है। यह आज पोर्ट्स, एयरपोर्ट्स और पावर जैसे सेक्टर में सबसे बड़ा खिलाड़ी बन चुका है। इंडिया में हेल्थ सेक्टर के तेजी से ग्रोथ करने की संभावना है। 2016 से हेल्थ केयर इंडस्ट्री की कंपाउंड एनुअल ग्रोथ रेट (CAGR) करीब 22 फीसदी रही है।
स्रोत : money control, 18 may 2022.

Comments

Popular posts from this blog

'वैवाहिक बलात्कार'(Marital Rape) - सच या सिर्फ सोच? : दीपाली

वीरांगना नांगेली

वीर योद्धा राणा सांगा की शौर्य गाथा (A Story of Great Worrier Rana sanga)

भारतीय साहित्य में विभाजन का दर्द

संयुक्त राष्ट्र की भाषाओं में हिंदी शामिल

महिला सशक्तिकरण या समाज का सच : दीपाली

Blood & Faith - Matthew Carr

फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ की मशहूर शायरी

विश्व आदिवासी दिवस, 2022

सत्य वचन (उत्तराखंड की लोक कथा) : भूपेंद्र रावत