बेटियां मिलती है सौभाग्य से – अनिल वर्मा

बेटियां मिलती है सौभाग्य से - अनिल वर्मा

हनुमानगढ़। बेटियां मिलती है सौभाग्य से, बेटों का मोह किसे घर की रौनक होती है बेटियां। टाउन के नई आबादी गली नम्बर 3 निवासी अनिल वर्मा के घर बेटी (पोती) के जन्म पर थाली बजाकर खुशीयां मनाई। अनिल वर्मा के दो पुत्र है और उनके बड़े बेटे रोहित के भी दो बेटे है और अब उनके छोटे बेटे राहुल व उनकी पुत्र वधु सुनीता वर्मा के पुत्री का जन्म हुआ है और परिवार में पहली बेटी के जन्म पर थाली बजाकर व आस पड़ौस में मिठाईयां बांटकर खुशी मनाई गई। ज्ञात रहे कि अनिल वर्मा भारतीय जनता पार्टी स्वच्छता अभियान प्रकल्प के सहसंयोजक है। अनिल वर्मा ने कहा कि छोटी मानसिकता वाले लोग ही बेटियों को बोझ मानते है जब कि बेटियां दो कुलों का नाम रोशन करती है। उन्होने कहा कि आज के समय में बेटियों बेटों से दो कदम आगे है। परिवार में बेटी के जन्म की खुशी में अनिल वर्मा व उनकी धर्मपत्नी संगीता वर्मा ने मृत्यु पश्चात देहदान करने का संकल्प लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *