प्रदीप पाल और बलविन्द्र दास को मिथिला सेवा समिति से किया निष्कासित

प्रदीप पाल और बलविन्द्र दास को मिथिला सेवा समिति से किया निष्कासित

हनुमानगढ़। पूर्वांचल समाज की मिथिला सेवा समिति के खिलाफ किसी व्यक्ति ने सोशियल मीडिया पर ब्यानबाजी करते हुए समिति सदस्यों पर कई आरोप लगाएं है। इस संदर्भ समिति के सदस्यों ने टाउन थाना प्रभारी को प्रार्थना पत्र देकर साईबर क्राइम एक्ट के तहत उक्त व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। समिति सदस्यों ने बताया कि मिथिला सेवा समिति शहर में समय-समय पर विभिन्न सामाजिक व धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन करवाती है, इन कार्यक्रमों का आर्थिक लेखा-जोखा कार्यक्रम के पश्चात समिति सदस्यों व समाज के लोगों के बीच होता है। समाज का कोई भी व्यक्ति समिति कोषाध्यक्ष से ले सकता है। लेकिन गुरूवार को व्हट्स एप के किसी ग्रूप में कुछ असामाजिक तत्वों ने एक वीडियों वायरल किया है, जिसमें समिति पर समाज को बेचने का आरोप लगाया गया है, इससे समिति व समिति सदस्यों की छवि धुमिल हुई है। समिति सदस्यों ने थाना प्रभारी को ज्ञापन सौंप उक्त मामले की जांच कर कार्रवाई की मांग की है। समिति के अध्यक्ष बलदेव दास ने बताया किदो सदस्यों प्रदीप पाल और बलविन्द्र दास को समिति के खिलाफ कार्यों में संलिप्त पाए जाने पर समिति से निष्कासित किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *